MBBS डॉक्टर बनने के लिए 2024 में कितने प्रतिशत नम्बर चाहिए  

1. परीक्षा में उपस्थित होने वाले छात्रों की संख्या: यदि परीक्षा में उपस्थित होने वाले छात्रों की संख्या अधिक है, तो कटऑफ प्रतिशत भी अधिक होगा। 

2. परीक्षा की कठिनाई: यदि परीक्षा कठिन है, तो कटऑफ प्रतिशत कम होगा।  

3. श्रेणी: अनारक्षित श्रेणी के लिए कटऑफ प्रतिशत, आरक्षित श्रेणियों (जैसे अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग) के लिए कटऑफ प्रतिशत से अधिक होगा। 

पिछले वर्षों के NEET कटऑफ प्रतिशत के आधार पर, एमबीबीएस डॉक्टर बनने के लिए 2024 में अनुमानित प्रतिशत इस प्रकार हैं: 

अनारक्षित श्रेणी: 50-55% ईडब्ल्यूएस: 45-50% ओबीसी: 40-45% एससी: 35-40% एसटी: 30-35%

ये केवल अनुमानित प्रतिशत हैं। वास्तविक कटऑफ प्रतिशत NEET 2024 के परिणाम घोषित होने के बाद ही ज्ञात होगा। 

जाने छतीसगढ़ का पुराना नाम क्या है ?